Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/kuldevscc/public_html/jknewsupdates.com/wp-content/themes/default-mag/assets/libraries/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

आयुर्वेद के प्रख्यात विद्वान् डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया जी के निधन से आयुर्वेद एवं संस्कृत जगत् को अपूरणीय क्षति हुई है। : महंत रोहित शास्त्री।

आयुर्वेद को लोकप्रिय बनाने में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा

जम्मू कश्मीर :- डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया का शनिवार को निधन हो गया है। वो 72 साल के थे। देश के बड़े आयुर्वेदाचार्यों में शुमार डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया ने शनिवार को जम्मू स्थित अपने घर पर आखिरी सांल ली। डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया जी को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए श्रीकैलख ज्योतिष एवं वैदिक संस्थान ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत रोहित शास्त्री (ज्योतिषाचार्य) ने कहा कि डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया जी मूलतः चक मुरार, जम्मू के निवासी थे, वर्तमान में वह बिक्रम चौक जम्मू में रहते थे। चिकित्सक के तौर पर डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया की वैज्ञानिक खोज के लिए प्रतिबद्ध थे। उनको आयुर्वेद के आधुनिकीकरण में उनके अतुलनीय योगदान के लिए याद किया जाएगा। एक मानवतावादी के रूप में, उन्होंने समाज में सभी के लिए अच्छे स्वास्थ्य और सम्मानित जीवन की कल्पना की थी।अपनी विद्वत्ता से आयुर्वेद के क्षेत्र में जब कभी भी टकराव की स्थिति उत्पन्न होती थी तब एक सफल निर्णायक के रूप में वे अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते थे | उनके तर्क में प्रमाणिकता की विशिष्टता थी | धार्मिकनिष्ठा, आयुर्वेद चिकित्सा एवं धर्म के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान ही इनका परिचय हुआ करता था | आयुर्वेद चिकित्सा आदि के अपने कर्म में वे कभी विचलित नहीं होते थे | इनकी आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति अनंत काल तक इनकी याद को जीवंत रखेगा | कुछ समय से उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा था | उनके निधन से केवल जम्मू कश्मीर के लोगों को ही नहीं बल्कि आयुर्वेद एवं संस्कृत जगत् को अपूरणीय क्षति हुई है | उन्होने आयुर्वेद एवं संस्कृत भाषा के साथ सामाजिक क्षेत्रों में भी लोकप्रियता हासिल की थी | स्वर्गीय डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया जी का जीवन धर्म, मानव-सेवा को समर्पित रहा | डॉ पुरषोत्तम दास खजूरिया जी ने समाज के उत्थान के लिए कई कल्याणकारी कार्य किए | समाज के हितों की रक्षा में उनका योगदान सदैव ही प्रशंसनीय रहा | उनके आकस्मिक निधन से समूचा जम्मू कश्मीर मर्माहत है | हम श्रीबावा कैलख देव जी से मृतक आत्मा को चिर शांति व उनके परिजनो, अनुयायियों व प्रशंसको को दुःख की इस घडी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने के लिए प्रार्थना करते हैं।

ट्रस्ट के सदस्य प्रमोद शर्मा, अंकुश शाम शर्मा, चेतन वांचो, सुखजीत सिंह जम्वाल, अमर सिंह जम्वाल, पंडित देव दत्त शास्त्री,एडवोकेट पवन खजूरिया, राकेश गंडोत्रा,सुमन लाल शास्त्री, राजीव शर्मा, शिव कुमार शर्मा,विजय शास्त्री,राम पाल शास्त्री,विनोद शर्मा,यश सेठ,राजिंदर सेठ,विजय सेठ,हर्ष शर्मा,चंद्रशेखर शर्मा (बंटी), उत्तम चंद शर्मा आदि ने भी उनके निधन पर गहरा दुःख प्रकट किया।

Editor JK News Updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

After killing the women the body was severely cut into pieces

Mon Feb 21 , 2022
After brutally murdering a young lady the culprit sliced the women’s body into pieces.The incident has been reported from Mahanpur village in Basholi block in district Kathua of J&K . Shilpa Sharma was a 26 year old young lady a resident of Mahanpur village of district Kathua she was mercilessly […]

You May Like

Breaking News

%d bloggers like this: