Warning: sprintf(): Too few arguments in /home/kuldevscc/public_html/jknewsupdates.com/wp-content/themes/default-mag/assets/libraries/breadcrumb-trail/inc/breadcrumbs.php on line 254

मार्गशीर्ष पूर्णिमा के दिन जरूरतमंदों को यथाशक्ति दान करें : महंत रोहित शास्त्री।

मार्गशीर्ष रात्रि पूर्णिमा व्रत 07 दिसंबर बुधवार को और मार्गशीर्ष दिवा पूर्णिमा व्रत 08 दिसंबर गुरुवार को।

जम्मू कश्मीर : मार्गशीर्ष पूर्णिमा सनातन धर्म में विशेष महत्व रखती है,मार्गशीर्ष पूर्णिमा के विषय में श्रीकैलख ज्योतिष एवं वैदिक ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत रोहित शास्त्री ने बताया कि मार्गशीर्ष माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को मार्गशीर्ष पूर्णिमा कहा जाता है। मार्गशीर्ष के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि इस वर्ष सन् 2022 ई. 07 दिसंबर बुधवार सुबह 08 बजकर 02 मिनट पर शुरू होगी और 08 दिसंबर गुरुवार सुबह 09 बजकर 38 मिनट पर समाप्त होगी। जो भक्तजन रात्रि पूर्णिमा का व्रत रखते हैं वह 07 दिसंबर बुधवार को रखे और जो भक्तजन दिवा पूर्णिमा का व्रत करते हैं वह 08 दिसंबर गुरुवार को रखे।
इस दिन भगवान श्रीसत्यनारायण जी भगवान की कथा पढ़ना अथवा सुनना या पूजा करवाना बेहद शुभ होता है। पूर्णिमा तिथि के दिन भगवान श्रीगणेश माता पार्वती भगवान शिव,श्रीकृष्ण जी और चंद्रमा की पूजा का भी विशेष महत्व है।

मार्गशीर्ष पूर्णिमा पर पवित्र नदियों, सरोवरों में स्नान करने का विशेष महत्व है कोरोना महामारी के चलते घर में ही पानी में गंगाजल डाल कर स्नान करें और घर के आस पास जरूरतमंदों लोगों को यथाशक्ति दान अवश्य करें ऐसा करने से भगवान विष्णु का आशीर्वाद प्राप्त होता है।

अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार,मार्गशीर्ष पूर्णिमा सन् 2022 ई. की आखिरी पूर्णिमा होगी,धर्मग्रंथों के अनुसार मार्गशीर्ष की पूर्णिमा तिथि पर अन्य पूर्णिमा तिथियों की तुलना में 32 गुना ज्यादा फल मिलता है।

शास्त्रों के अनुसार इस दिन किसी भी प्रकार की तामसिक वस्तुओं का सेवन नहीं करना चाहिए,ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए,इस दिन शराब आदि नशे से भी दूर रहना चाहिए। इसके शरीर पर ही नहीं, आपके भविष्य पर भी दुष्परिणाम हो सकते हैं,इस दिन सात्विक चीजों का सेवन किया जाता है।

बुधवार 07 दिसंबर को भगवान श्रीदत्तात्रेय जयंती भी है,दत्तात्रेय जयंती को दत्त जयंती भी कहते हैं। भगवान दत्तात्रेय को भगवान शिव, ब्रह्मा और विष्णु तीनों की प्रतिरूप माना जाता है। वे तीनों के अवतार माने जाते हैं।

महंत रोहित शास्त्री (ज्योतिषाचार्य)
अध्यक्ष श्री कैलख ज्योतिष एवं वैदिक संस्थान ट्रस्ट(पंजीकृत),रायपुर, ठठर जम्मू,पोस्ट आफिस रायपुर,पिन कोड 181123 संपर्कसूत्र :-9858293195,7006711011,9796293195,ईमेल.rohitshastri.shastri1@gmail.com.

Editor JK News Updates

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

Doctor is the form of God, Dr. Sushil Sharma is making this proverb true :- Mahant Rohit Shastri.

Sun Dec 11 , 2022
We salute the selfless service of Dr. Sushil ji. JAMMU Today Mahant Rohit Shastri, Head of Shri Kailakh Jyotish avim Vedic Sanathan trust and Deepak Gupta, Trustee of the Trust, presented the book of glory of Nag Devta to Dr. Sushil Sharma, HOD, Department of Heart Disease, Super Specialty Hospital, […]

Breaking News

%d bloggers like this: